Wed. Jan 20th, 2021

शक्ति न्यूज अल्मोड़ा |

1918 से प्रकाशित शक्ति अखबार का डिजीटल प्लेटफार्म

जिला विकास प्राधिकरण को समाप्त करने की मांग को लेकर गांधी पार्क में गरजी सर्वदलीय संघर्ष समिति

1 min read

अल्मोडा। विगत तीन वर्षों से जिला विकास प्राधिकरण को समाप्त करने की मांग को लेकर लगातार संघर्षरत सर्वदलीय संघर्ष समिति ने आज गांधी पार्क में धरना देकर प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की तथा प्रदेश सरकार से मांग की कि जनहित में बिना समय गवाए सरकार इस जनविरोधी जिला विकास प्राधिकरण को समाप्त करे। इस अवसर पर समिति के सचिव वरिष्ठ कांंग्रेसी नेता हर्ष कनवाल ने कहा कि जिला स्तरीय विकास प्राधिकरण लागू होने से समूचे पर्वतीय क्षेत्र की जनता को अपने भवन निर्माण में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है तथा जनता पर अतिरिक्त आर्थिक बोझ भी पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि पर्वतीय क्षेत्रों की भौगोलिक स्थिति इतनी विपरीत है कि यहां पर जिला स्तरीय विकास प्राधिकरण को लागू किया जाना तर्कसंगत ही नहीं है। समिति के प्रवक्ता राजीव कर्नाटक ने कहा कि स्थानीय लोग संघर्ष समिति के बैनर तले विगत तीन वर्षों से इस इस जनविरोधी काले कानून को वापस लेने की मांग सरकार से कर रहें हैं पर सरकार कुछ भी सुनने को तैयार ही नहीं है। कर्नाटक ने कहा कि प्रदेश सरकार को अपनी तुगलकी नीति से बाज आना चाहिए तथा कैबिनेट में लाकर इस जिला स्तरीय विकास प्राधिकरण को पर्वतीय क्षेत्रों से पूरी तरह समाप्त कर देना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्राधिकरण लागू होने से सबसे ज्यादा फजीहत मध्यमवर्गीय एवं आर्थिक रूप से कमजोर लोगों की हो रही है। सरकार को सोचना चाहिए कि एक आर्थिक रूप से कमजोर व्यक्ति पाई पाई जोड़कर अपने लिए एक छोटे से मकान का सपना देखता है परन्तु ये प्राधिकरण के नियम और शुल्क उसका सपना तोड़ के रख देते हैं। उन्होंने कहा कि यदि सरकार ही मध्यमवर्गीय एवं आर्थिक रूप से कमजोर लोगों के बारे में नही सोचेगी तो ये वर्ग कहां जाकर अपना रोना रोयेगा?उन्होंने कहा कि जहां एक और इस विकास प्राधिकरण से भवन निर्माण में काफी कमी आयी है वही दूसरी ओर भवन निर्माण सम्बन्धी रोजगार करने वाले सभी लोगों के रोजगार पर भी इसका विपरीत असर पड़ा है। उन्होंने कहा कि एक ओर सरकार स्वयं पलायन को रोकने की बात कर रही है वहीं दूसरी ओर जिला स्तरीय विकास प्राधिकरण पलायन जैसी गंभीर समस्या को जन्म दे रहा है। उन्होंने प्रदेश सरकार से मांग की है कि अब बिना समय बर्बाद किये इस काले कानून को समाप्त कर जनता को राहत देनी चाहिए। धरने की अध्यक्षता महेश चन्द्र आर्या तथा संचालन कांंग्रेस जिला सचिव दीपांशु पाण्डेय ने किया। धरने में हर्ष कनवाल,प्रवक्ता राजीव कर्नाटक,कांंग्रेस जिला सचिव दीपांशु पाण्डेय,अख्तर हुसैन,पूरन चन्द्र तिवारी,ब्रहमानन्द डालाकोटी, महेश चन्द्र आर्या आदि उपस्थित रहे।

Copyright © शक्ति न्यूज़ | Newsphere by AF themes.