June 15, 2021

शक्ति न्यूज अल्मोड़ा |

1918 से प्रकाशित शक्ति अखबार का डिजीटल प्लेटफार्म


Warning: sprintf(): Too few arguments in /home/shaktialmora/public_html/wp-content/themes/newsphere/lib/breadcrumb-trail/inc/breadcrumbs.php on line 254

अल्मोड़ा पुलिस का सराहनीय प्रयास – मिशन हौसला के अन्तर्गत पुलिस विभाग द्वारा रक्तदान

चमोली आपदा अपडेट— चमोली जिले के रैणी क्षेत्र में आये में अब तक 36 लोगों के शव हुवे बरामद रेस्क्यू जारी

1 min read

Subscribe Channel

रिर्पोट। एस एक कपकोटी।
शुक्रवार 12 फरवरी 2021
चमोली​ जिले में आपदा को आज छ: दिन हो गये है जिसमें लगातार दिन रात जारी रेस्क्यू आपरेशन में शवों और मानव अंगों के मिलने का सिलसिला जारी है। ​रेस्क्यू आपरेशन छठे दिन अब तक 36 लोगों के शव बरामद हो चुके हैं और विभिन्न स्थानों 16 मानव अंग बरामद किये जा चुके हैं। जबकि 168 लोगों के अभी लापता होने की आशंका जताई जा रही हैं।
उधर राहत बचाव कार्य में लगे कर्मियों द्वारा लगातार उन गांवो तक भोजन आदि सामाग्री आदि पहुंचायी जा रही है जिन गांवो का इस हादसे से संपर्क टूट गया है। कई गांवो को जोड़ने के लिए वै​कल्पिक व्यवस्था भी की जा रही है। जिलाधिकारी के अनुसार आपदा में मारे गये गाडी गांव के बलवीर सिंह, बैनोली निवासी मनोज चौधरी, तपोवन निवासी नरेन्द्र लाल के परिजनों को चार चार लाख रूपये की राहत राशि भेज दी है। जो कि लोगों के खाते में जमा कराई गयी है।
उधर गढ़वाल आयुक्त के अनुसार तपोवन टनल में काफी विषम ​परिस्थितियों में टनल के अंदर से मलबा निकालने का काम लगातार जारी है और टनल में फंसे हुवे लोगों की खोजबीन की जा रही है। खबरों के अनुसार सुरंग के अंदर जितना मलबा हटाया जा रहा है उतना ही पीछे से आता जा रहा है। इस समय टनल में एक समय केवल दो लोडर ही जा पा रहे है। गत दिवस एक लोडर के खराब हो जाने से एक ही लोडर से काम किया जा रहा हैं जिससे काम की गति कम हुई है। टनल में इतनी परेशानी हो रही है कि पिछले पांच दिनों में लगभग 100 मीटर के आसपास ही अभियान चल पाया है। इधर ऋषिगंगा में जल स्तर अचानक बढ़ जाने से राहत और बचाव कार्य को बीच में रोकना पड़ रहा है गत दिवस ऋषिगंगा में अचानक जल स्तर बढ़ जाने से कार्य को रोकना पड़ा और रैणी गांव के आस पास अलर्ट जारी कर दिया था। इस तरह राहत और बचाव कार्य में लगातार मुश्किल बढती जा रही हैं। लेकिन राहत और बचाव कार्य में लगे सभी लोग लगातार विपरीत परि​स्थितियों में भी राहत बचाव कार्य जारी रखे हुवे हैं।

अल्मोड़ा मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉक्टर आर जी नौटियाल का संदेश

Copyright © शक्ति न्यूज़ | Newsphere by AF themes.