May 26, 2022

Shakti Almora

-since from 1815

शिक्षा का प्रसार नशे का तिरस्कार रैली, नुक्कड़ नाटक का मंचन

1 min read

अल्मोड़ा (धौलादेवी) पूर्व वर्षो की भांति इस वर्ष भी “राष्ट्रीय पर्वो” की पूर्व संध्या पर ग्राम सभा बजेला विकास खंड धौलादेवी में सभी बच्चो ने ग्रामीणों संग एक रैली का आयोजन किया जिसमें वे अपने अभिभावकों से अनुरोध कर रहे थे ” नशे की बोतल तोड़ दो पाप मेरे पेंसिल ला दो ” इस गतिविधि का उद्देश्य यह था कि “जब बच्चें अभिभावकों से वो बात कहें जो उन्हें नही कहनी चाहिए तो अभिभावक शर्म के कारण उनकी बात सुनते है ,और उनकी कही बात पे अमल करते है ” हमारे ग्रामीण क्षेत्रों मे अभिभावक बच्चों की शिक्ष दीक्षा मे उतना ध्यान नही दें पाते जितना की आवश्यक है ,बच्चे बहुत छोटी छोटी चीजो के कारण अकादमिक मे पिछड़ जाते है, इसके बहुत से कारण है ,मुख्य कारण गरीबी ,बेरोजगारी के साथ नाश खोरी सर्वविदित है। बच्चो ने एक नुक्क्ड़ नाटक”शिक्षा के सरोकार “द्वारा यह बात भी समझाई की एक गंदी आदत ही दूसरी गंदी आदत को जन्म देती है।
गांधी जी की 150 वी जयंती के अवसर पर इस कार्यक्रम का विशेष महत्व हो जाता है क्योंकि वे भी नशे से मुक्त समाज की ही हमेशा वकालत करते आये थे उन्होंने कहा है- ” जो राष्ट्र शराब की आदत का शिकार है, उसके सामने विनाश मुँह बाये खड़ा है अकसर समझदार व्यक्ति अपने बच्चों की पुकार सुनकर विषाक्त अंधकार से निकलने का प्रयास तो करते ही हैं। सेवित क्षेत्र में शिक्षा का प्रसार नशे का तिरस्कार कार्यक्रम बच्चों द्वारा ही संचालित किया जाता है ।

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.