Tue. Aug 4th, 2020

शक्ति न्यूज अल्मोड़ा |

1918 से प्रकाशित शक्ति अखबार का डिजीटल प्लेटफार्म

आत्मनिर्भर भारत बनने पर बैंकों का ग्रहण— बिट्टू

1 min read

केन्द्र सरकार द्वारा कोरोना संक्रमण काल में स्वरोजगार अपना कर आत्मनिर्भर बनने का ढिढोरा पिटा जा रहा है। इस अवधि में विभिन्न राज्यों से उत्तराखंड लौटे प्रवासी जो कि पूर्व में निजी संस्थानों में कार्यरत थे और अपना व्यवसाय छोड़ कर यहां लौटे अब उनको अपना व्यवसाय प्रारम्भ कर आत्मनिर्भर बनने में दोहरी मार का सामना करना पड़ रहा है। एक तरफ उन युवााओं को जो उत्तराखंड लौट कर आये है उनके सामने परिवार के ​जीविकोपार्जन का संकट खड़ा हो गया हैं वही दूसरी ओर यदि वह किसी बैंक में स्वरोजगार हेतु आवदेन करता है तो बैंक द्वारा 10 लाख की वित्तीय सहायता हेतु 16 लाख रूपया की गारटीं उन युवाओं से मांगी जा रही है।
इस संबंध में पूर्व राज्य मंत्री बिट्टू कर्नाटक ने आज एक ज्ञापन जिलाधिकारी
नितिन सिंह भदौरिया को देते हुवे कहा कि सरकार केवल विज्ञापनों के द्वारा स्वरोजगार व आत्मनिभर बनने की बात कर रही है जब कि इस कोरोना संक्रमण काल में युवा मा​नसिक तनाव में आ रहा है। मानसिक तनाव के रहते वह कभी भी कोई गलत कदम उठा सकता है। उन्होंने मांग की है कि पर्वतीय जनपदों में एकल खिड़की के तहत प्रवासी युवाओ को तत्काल रोजगार उपलब्ध कराने हेतु बैंकों को इस संबंध पर स्पष्ट निर्देश सरकार दे तथा युवाओं को बिना गारटीं के लोन उपलब्ध कराए। सरकार को यह भी चाहिए कि यदि किसी बैंक की शिकायत आती है तो उन बैंक अधिकारियों के विरूद्ध दंडात्मक कार्यवाही करें।
इस संबंध में उन्होंने मांग की है कि सरकार प्रवासी युवाओं की इस ज्वलत समस्या पर ध्यान देकर स्वरोजगार उपलब्ध करा कर उन्हें आत्मनिर्भर बनने में योगदान करें।

Copyright © शक्ति न्यूज़ | Newsphere by AF themes.