Sun. Jan 24th, 2021

शक्ति न्यूज अल्मोड़ा |

1918 से प्रकाशित शक्ति अखबार का डिजीटल प्लेटफार्म

ग्राम पंचायतों के 2019 उप निर्वाचन में प्रधान के पदों नामांकन के लिए नहीं मिला आरक्षित श्रेणी का पात्र उम्मीदवार

1 min read
जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया

अल्मोड़ा— जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी नितिन सिंह भदौरिया ने बताया कि उत्तराखण्ड शासन देहरादून के निर्देशानुसार त्रिस्तरीय पंचायत सामान्य निर्वाचन-2019 एवं उप निर्वाचन-2019 में आरक्षित श्रेणी का पात्र उम्मीदवार उपलब्ध न होने के कारण ग्राम पंचायतांे में प्रधान के पदों पर नामांकन नहीं हो पाया।
उन्होंने बताया कि उत्तराखण्ड पंचायतीराज अधिनियम, 2016 व तत्क्रम में उत्तराखण्ड पंचायतीराज(संशोधन) अधिनियम, 2019 की धारा 10-क के साथ पठित उत्तर प्रदेश पंचायत राज नियमावली 1994 के अन्तर्गत जिला अल्मोड़ा क्षेत्र पंचायत ताड़ीखेत के ग्राम पंचायत पालीनदुली एवं खड़खेत जो कि वर्तमान में अनुसूचित जाति हेतु आरक्षित थी को अनारक्षित किया गया है। क्षेत्र पंचायत चैखुटिया के बोहरागाॅव जो कि वर्तमान में अनुसूचित जाति हेतु आरक्षित थी को अनारक्षित किया गया है। क्षेत्र पंचायत द्वाराहाट के ग्राम पंचायत दलमोटी, डढोली जो कि वर्तमान में अनुसूचित जाति हेतु आरक्षित थी को अनारक्षित किया गया है साथ ही ग्राम पंचायत उभ्याड़ी, सिमोली जो वर्तमान में अनुसूचित जाति महिला हेतु आरक्षित थी उसे अन्य महिला हेतु आरक्षित किया गया है।
उन्होंने बताया कि क्षेत्र पंचायत हवालबाग के ग्राम पंचायत सैंज जो कि वर्तमान में अनुसूचित जाति हेतु आरक्षित थी को अनारक्षित किया गया है। क्षेत्र पंचायत धौलादेवी के ग्राम पंचायत रौल, मलाड़ जो कि वर्तमान में अनुसूचित जाति हेतु आरक्षित थी को अनारक्षित किया गया है साथ ही ग्राम पंचायत आरासलपड़ जो वर्तमान में अनुसूचित जाति महिला हेतु आरक्षित थी उसे अन्य महिला हेतु अनारक्षित किया गया है। क्षेत्र पंचायत भिकियासैंण के ग्राम पंचायत खरक, पड्यूला, बम्योली जो कि वर्तमान में अनुसूचित जाति हेतु आरक्षित थी को अनारक्षित किया गया है ग्राम पंचायत निगराली जो वर्तमान में अनुसूचित जाति महिला हेतु आरक्षित थी उसे अन्य महिला हेतु अनारक्षित किया गया है। साथ ही रिक्त ग्राम पंचायतों में प्रस्तावितत आरक्षण प्रस्तावों का अनन्तिम प्रकाशन 10 दिसम्बर, 2020 को होगा। आरक्षण प्रस्तावों पर आपत्तियों दिनाॅंक 11 दिसम्बर से 13 दिसम्बर, 2020 तक प्राप्त की जायेंगी। 14 दिसम्बर, 2020 को जिलाधिकारी द्वारा आरक्षण प्रस्तावों का निस्तारण किया जायेगा। 15 दिसम्बर, 2020 को आरक्षण प्रस्तावों का अन्तिम प्रकाशन किया जायेगा। 16 दिसम्बर, 2020 को आरक्षण प्रस्तावों को निदेशालय में उपलब्ध कराया जायेगा।

Copyright © शक्ति न्यूज़ | Newsphere by AF themes.