Tue. Nov 24th, 2020

शक्ति न्यूज अल्मोड़ा |

1918 से प्रकाशित शक्ति अखबार का डिजीटल प्लेटफार्म

अन्यत्र संबद्ध शिक्षकों को अब मूल तैनाती वाले स्कूलों में देनी होगी डयूटी, हाईकोर्ट

1 min read
Slider

संवाद । एस0 एस0 कपकोटी
उत्त्राखण्ड । प्रदेश सरकार के प्राथमिक शिक्षकों की मनमाफिक स्कूलों व अन्य स्थानों में संबद्धता समाप्त करने संबधित आदेश को चुनौती देने वाली याचिका को हाईकोर्ट ने खारिज कर दिया ।
कोर्ट के इस आदेश के बाद पहाड़ के स्कूलों में तैनाती के बजाय देहरादून और हल्द्वानी सहित अन्य शहरों में सुविधाजनक विद्यालयों में संबद्ध शिक्षकों को बड़ा झटका लगा है। संबद्ध किए इन शिक्षकों को अब मूल तैनाती वाले स्कूलों में डयूटी देनी होगी। न्यायमूर्ति लोकपाल सिंह की एकलपीठ के समक्ष मामले की सुनवाई हुई। मामले के अनुसार शिक्षकों ने हाईकोर्ट में याचिका दायर कर कहा था कि 2016 में तत्कालीन सरकार ने बड़े पैमाने पर शिक्षकों के तबादले किए थे और कई को संबद्ध किया था। याचिका में कहा गया कि करीब छह सौ प्राथमिक शिक्षक अपने मूल विद्यालयों के बजाय मनमाफिक और सुविधाजनक विद्यालयों में संबद्ध हो गए।
2019 में वर्तमान सरकार ने इन शिक्षकों की संबद्धता समाप्त करते हुए मूल विद्यालय में उनकी तैनाती के आदेश जारी कर दिए। इस आदेश के बाद कुछ शिक्षकों ने तो मूल विद्यालय में ज्वाइन कर लिया, जबकि कई ने हाईकोर्ट में याचिका दायर कर सरकार के आदेश को चुनौती दे डाली। पक्षों को सुनने के बाद हाईकोर्ट की एकलपीठ ने करीब दो दर्जन से अधिक शिक्षकों की याचिकाएं खारिज कर दीं हैं।

Copyright © शक्ति न्यूज़ | Newsphere by AF themes.