Fri. Aug 7th, 2020

शक्ति न्यूज अल्मोड़ा |

1918 से प्रकाशित शक्ति अखबार का डिजीटल प्लेटफार्म

लोक गायक हीरा सिंह राणा नहीं रहे,

1 min read

अल्मोड़ा। मेरी मानिले डानि मैं तेरि बलाई ल्यूला व रंगीली बिंदी घाघरी काई हाय हाय रे मिजाता जैसे सुरीले गीत की प्रस्तुति अब नहीं सुनाई देगी। पारंपरिक लोक गायन के प्रतीक हीरा सिंह राणा हमारे बीच नहीं रहे। उनके निधन से उत्तराखंड संस्कृति, कला और संगीत जगत की अपूर्णीय क्षति हुई है। राणा को आम आदमी पार्टी ने दिल्ली लोकभाषा
अकादमी के उपाध्यक्ष बनाया था। उन्होंने दिल्ली के विनोदनगर स्थित आवास पर तड़के लगभग 3 बजे अंतिम सांस ली। बताया गया है कि उन्हें हार्टअटैक हुआ था। हीरा सिंह राणा लोक की चेतना को एक नई अभिव्यक्ति दी। वह वास्तव में लोक के कवि थे । उनके स्वर में पहाड़ की माटी की महक साफ झलकती थी। कुमाऊं के सबसे पुराने अखबार 'शक्ति' परिवार महान कलाकार को विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता है।

Copyright © शक्ति न्यूज़ | Newsphere by AF themes.