Tue. Jan 26th, 2021

शक्ति न्यूज अल्मोड़ा |

1918 से प्रकाशित शक्ति अखबार का डिजीटल प्लेटफार्म

उत्तराखंड में चाय की चार नई फैक्ट्रियां लगेगी

1 min read
Slider

संवाद। नमित जोशी।

आज देहरादून में चाय विकास बोर्ड बैठक की अध्यक्षता करते हुवे प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेेेंद्र सिंह रावत ने बीसी के माध्यम से निर्देश दिये कि चाय विकास बोर्ड का मुख्यालय ग्रीष्म कालीन राजधानी गैरसैंण में ​स्थापित किया जाय। इस हेतु उन्होंने जिलाधिकारी चमोली को जमीन तलाशने के निर्देश दिये। उन्होंने बैठक में यह भी निर्देश दिये कि राज्य में चार नई चाय की फैक्ट्री स्थापित की जाय तथा चाय बगानों मे उत्पादित हरी पत्तियों के न्यूनतम मूल्य को निर्धारित करने के लिए एक समिति ​गठित की जाय जो कि प्रत्येक वर्ष हेतु न्यूनतम विक्रय मूल्य निर्धारित करेगी। न्यूनतम मूल्य फार्मगेट मूल्य होना चाहिए।
उन्होंने यह ​भी निर्देश दिये कि चाय बागान विकसित करने में चाय विशेषज्ञ अवश्य रखे जाय तथा चाय विकास बोर्ड द्वारा चाय ​बागान विकसित कर उन्हें कास्तकारों को सौंप दिया जाय। इसके लिए आगामी एक माह के भीतर एक व्यवहारिक माडल तैयार करते हुवे कार्य योजना तैयार​ की जाय। इस माडल को तैयार करने में कास्तकारों के सुझाव को भी शामिल किया जाय। उन्होंने कहा कि राज्य में जो निजी चाय फैक्ट्री किसी भी कारण बंद है उन्हें चलाने का प्रयास किया जाय। यदि निजी फैक्ट्रियों के स्वामी इसे चलाने में असमर्थ हो तो चाय विकास बोर्ड इसे पुन: चलाने का प्रयास करें।
मुख्यमंत्री ने चाय विकास बोर्ड की बैठक वर्ष में चार बार आयोजित किये जाने के निर्देश दिये ताकि किसान की समस्यओं से अवगत होने का अवसर मिल सके।


बीसी में उपस्थित जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया ने बताया कि जनपद में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए टी-टूरिज्म पर फोकस किया जा रहा है। उन्होने बताया कि गरूडाबांज स्थित उद्यान विभाग की जमीन को नये टी- गार्डन के रूप में विकसित किया जाएगा जिस पर कार्य किया जा रहा है।
बैठक में चाय विकास बोर्ड के नवनियुक्त उपाध्यक्ष गोंविद सिंह पिल्खवाल ​सहित चाय विकास बोर्ड से संबधित अन्य लोग भी उपस्थित थे।

Copyright © शक्ति न्यूज़ | Newsphere by AF themes.