July 7, 2022

Shakti Almora

-since from 1815

आज रात चांद पर उतरेगा भारत

1 min read

‘चंद्रयान-2 के लैंडर ‘विक्रम की चांद पर ‘सॉफ्ट लैंडिंग को यान में समन्वित ढंग से लगे कम से कम आठ उपकरणों द्वारा अंजाम दिया जाएगा। ‘विक्रम शनिवार तड़के डेढ़ बजे से ढाई बजे के बीच चांद की सतह पर ‘सॉफ्ट लैंडिंग करेगा।’विक्रम के अंदर रोवर ‘प्रज्ञान होगा जो शनिवार सुबह साढ़े पांच से साढ़े छह बजे के बीच लैंडर के भीतर से बाहर निकलेगा। शनिवार तड़के यान के लैंडर के चांद पर उतरने से पहले भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने एक वीडियो के माध्यम से समझाया कि ‘सॉफ्ट लैंडिंग कैसे होगी। अंतरिक्ष एजेंसी ने बताया कि चांद की सतह पर ‘सॉफ्ट लैंडिंग सुनिश्चित करने के लिए मशीन में तीन कैमरे-लैंडर पोजीशन डिटेक्शन कैमरा, लैंडर होरिजोंटल विलोसिटी कैमरा और लैंडर हजार्डस डिटेक्शन एंड अवोयडेंस कैमरा लगे हैं। इसके साथ दो के. ए बैंड-अल्टीमीटर-1 और अल्टीमीटर-2 हैं। लैंडर के चांद की सतह को छूने के साथ ही इसरो चेस्ट, रंभा और इल्सा नाम के तीन उपकरणों की तैनाती करेगा। इंतजार की घड़ियां खत्म हुईं, शुक्रवार की रात रात चांद पर यूं उतरेगा भ
इंतजार की घड़ियां खत्म हुईं। शुक्रवार की रात हमारे सपनों का चंद्रयान चांद की धरती पर होगा। यह ऐतिहासिक पल होंगे। देश के लिए चांद-रात होगी। आइये, आपको बताते हैं कि भारत के गौरव का चंद्रयान-2 किस तरह चंद्रमा की धरती पर उतरेगा।

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.