July 7, 2022

Shakti Almora

-since from 1815

अल्मोड़े की नन्दा देवी, सौरे की भगपति

नन्दा देवी मन्दिर में मेले की रौनक बढ़ने लगी है काशीपुर से चंद्रराजाओं के वंशज केसी0 सिंह बाबा सपरिवार यहां नन्दा देवी की पूजा अर्चना के लिए पहुंच है और कल शाम उन्होंने मेले का शुभारम्भ मन्दिर ​में पूर्जा अर्चना के साथ की नन्दादेवी मन्दिर की सजावट भव्य की गई है। तथा छानी लेसवाल से गाथा गायक जो कि नन्दा का जागर गाते हैं उन्होंने डयोली पोखर से इसका आगाज कर दिया है। दिन में धौलछीना निवासी दम्पत्ति आनन्दी व संतु सारे दिन जिनकी आंखे नहीं हैं वे मेले के प्रारम्भ से मूर्ति विर्सजन तक कुमाऊंनी गीत गा कर लोगों का मनोरंजन कर रहे है।

​मन्दिर परिसर में बाहर से आये व्यापारियों ने अपनी दुकानें लगा दी हैं आज सायं मेला समिति द्वारा कदली वृक्षों को आम​न्त्रित किया जायेगा। इस बार कदली वृक्ष लक्ष्मेश्वर में आमन्त्रित किए जा रहे है। कल प्राप्त् मंत्रोच्चार के साथ कदली वृक्षों की चंदवंशजों के वंशज द्वारा पूजा अर्चना की जायेगी और उसके बाद कदली वृक्षों से मां नन्दा सुनन्दा की मूर्तियों का निर्माण किया जायेगा तथा रात्रि को मूर्तियों की प्राण प्रतिष्ठा की जायेगी और भाद्र पद की अष्टमी (शुक्रवार) को सारे दिन नगर उसके आस—पास के लोगों द्वारा भारी संख्या में आकर पूजा अर्चना की जाएगी तथा रात्रि को महापूजा प्रारम्भ होगी जिससे की चंदवंश के वंशज केसी सिंह बा​बा एवं उनके परिजन करेंगे।

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.