Sat. Sep 26th, 2020

शक्ति न्यूज अल्मोड़ा |

1918 से प्रकाशित शक्ति अखबार का डिजीटल प्लेटफार्म

उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों को उत्तराखण्ड में मिलाने की मुहिम का विरोध शुरु

1 min read
Slider

यदि उत्तराखण्ड में उत्तरप्रदेश का कोई भी हिस्सा शामिल किया गया तो फिर उत्तराखण्ड के पर्वतीय राज्य होने का कोई लाभ नहीं आज यहां बयान जारी करते हुए पूर्व विधायक एवं संसदीय सचिव मनोज तिवारी ने मोदी सरकार की उस मंशा की भत्र्सना की है। जिससे मुरादाबाद मण्डल को उत्तराखण्ड में शामिल करने की बात उठ रही है। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड राज्य की परिकल्पना इस उद्देश्य के साथ की गयी थी ताकि समुच्चे पर्वतीय क्षेत्र को इसका लाभ मिल सके। यदि केन्द्र सरकार उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्से को उत्तराखण्ड में मिलायेगी तो फिर उत्तराखण्ड के पर्वतीय राज्य होने का कोई लाभ नहीं रह जायेगा। उन्होंने केन्द्र सरकार से कहा है कि उसे उत्तराख्ण्ड के विकास की ओर ध्यान देना चाहिए न कि भारी क्षेत्रों को उत्तराखण्ड में मिलाने पर।
यदि केन्द्र सरकार ने ऐसा किया तो यह उत्तराखण्ड की जनता के साथ छलावा होगा। उन्होंने केन्द्र व उत्तराख्ण्ड सरकार से कहा ​है कि उसे उत्तराखण्ड के विकास की ओर ध्यान देना चाहिए।

Copyright © शक्ति न्यूज़ | Newsphere by AF themes.