June 15, 2021

शक्ति न्यूज अल्मोड़ा |

1918 से प्रकाशित शक्ति अखबार का डिजीटल प्लेटफार्म

अल्मोड़ा पुलिस का सराहनीय प्रयास – मिशन हौसला के अन्तर्गत पुलिस विभाग द्वारा रक्तदान

प्रदेश सरकार द्वारा पहाड़ को दिया गया अभिशाप है जिला विकास प्राधिकरण- प्रकाश चन्द्र जोशी

1 min read

Subscribe Channel

अल्मोड़ा-जिला विकास प्राधिकरण को समाप्त करने की मांग को लेकर सर्वदलीय संघर्ष समिति के विगत साढ़े तीन वर्षों से चल रहे धरने के क्रम में समिति ने आज भी गांधी पार्क चौहानबाटा अल्मोड़ा में धरना दिया तथा प्रदेश की भाजपा सरकार के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन किया। धरने को सम्बोधित करते हुए सर्वदलीय संघर्ष समिति के संयोजक नगर पालिका अध्यक्ष प्रकाश चंद्र जोशी ने कहा कि आज से साढ़े तीन वर्ष पूर्व प्रदेश की भाजपा सरकार ने अपनी जिस हठधर्मिता का परिचय देते हुए तुगलकी फरमान से समस्त पहाड़ी क्षेत्रों में बिना पहाड़ की भौगोलिक स्थिति एवं धरातलीय स्थिति को जाने यह विकास प्राधिकरण लागू कर दिया था वही हठधर्मिता सरकार की आज भी है। उन्होंने कहा कि जनता आज इस प्राधिकरण के कारण बेहद त्रस्त है। अपने भवन मानचित्र स्वीकृति के लिए उसे बेहद परेशानियों का सामना करना पढ़ रहा है तथा भारी भरकम शुल्क भी देना पढ़ रहा है। समिति के संयोजक नगरपालिका अध्यक्ष प्रकाश चन्द्र जोशी ने कहा कि विगत साढ़े तीन वर्षों से संघर्ष समिति के बैनर तले अल्मोड़ा की जनता इस जनविरोधी प्राधिकरण को समाप्त करने के लिए लगातार आन्दोलनरत है।विगत पखवाड़े अल्मोड़ा आये सूबे के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने प्राधिकरण को स्थगित किये जाने की घोषणा भी कर दी थी परन्तु इतना समय बीत जाने के बाद भी अभी तक इसका शासनादेश जारी ना होने स्पष्ट करता है कि यह मात्र एक कोरी घोषणा थी। इस अवसर पर समिति के प्रवक्ता राजीव कर्नाटक ने कहा कि पहाड़ी क्षेत्र के लोग विगत साढ़े तीन सालों से इस विकास प्राधिकरण की मार झेल रहे हैं परन्तु परन्तु सरकार के कानों में जूं तक नहीं रेंग रही है। उन्होंने कहा कि जनता अपने भवन मानचित्र स्वीकृति के लिए दर दर की ठोकरें खा रही है परन्तु ना तो शासन और ना ही प्रदेश सरकार जनता के दर्द को समझ रही है। उन्होंने कहा कि पहाड़ी क्षेत्रों की भौगोलिक स्थिति को समझे बिना तुगलकी फरमान से प्रदेश सरकार का पहाड़ी क्षेत्रों में विकास प्राधिकरण को लागू करने का फैसला पूरी तरह जनविरोधी था। उन्होंने कहा कि एक ओर जहां सरकार पलायन रोकने की बात कर रही है वहीं दूसरी ओर इस प्राधिकरण के कारण समस्त पहाड़ी क्षेत्रों में पलायन जैसी गंभीर समस्या पैदा हो रही है जो सरकार की कथनी और करनी को स्पष्ट प्रदर्शित करता है। कर्नाटक ने कहा कि सरकार प्राधिकरण को समाप्त ना करके अपनी हठधर्मिता का परिचय दे रही है लेकिन सरकार यह भी स्पष्ट जान ले कि जब तक प्रदेश सरकार इस विकास प्राधिकरण को समाप्त नहीं कर देती समिति का आन्दोलन बदस्तूर जारी रहेगा।धरने की अध्यक्षता समिति के अध्यक्ष प्रकाश चन्द्र जोशी ने और संचालन तारा चन्द्र साह ने किया।धरने में समिति के संयोजक नगरपालिका अध्यक्ष प्रकाश चन्द्र जोशी, आनन्दी वर्मा,समिति के प्रवक्ता राजीव कर्नाटक,दीपांशु पान्डेय,तारा चन्द्र साह,सभाषद हेम तिवारी, दिनेश जोशी,महेश आर्या,राजू गिरी,ललित मोहन पन्त,भारती पान्डेय,शिवराज बनौला,अर्जुन नैनवाल,एजाज अख्तर,ब्रह्मानंद डालाकोटी, लीला खोलिया,यूसूफ तिवारी,दिनेश पान्डेय,अख्तर हुसैन,महेश लाल वर्मा,लक्ष्मण सिंह ऐठानी,सुनयना मेहरा,विनोद तिवारी,गिरीश नाथ गोस्वामी, हरीश चन्द्र जोशी सहित अनेकों लोग उपस्थित रहे।

अल्मोड़ा मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉक्टर आर जी नौटियाल का संदेश

Copyright © शक्ति न्यूज़ | Newsphere by AF themes.