June 24, 2021

शक्ति न्यूज अल्मोड़ा |

1918 से प्रकाशित शक्ति अखबार का डिजीटल प्लेटफार्म

अल्मोड़ा पुलिस का सराहनीय प्रयास – मिशन हौसला के अन्तर्गत पुलिस विभाग द्वारा रक्तदान

UPWWA की अध्यक्षा अलकनन्दा अशोक ने अल्मोड़ा पहुंचकर पुलिस कर्मियों की पत्नियों को आत्मनिर्भर बनाने के संबंध में की गोष्ठी

1 min read

Subscribe Channel

गत दिवस प्रदेश के पुलिस महानिर्देशक की जनपद भ्रमण के दौरान अल्मोड़ा पहुंचे पुलिस महानिर्देशक की धर्म पत्नी अलकनन्दा अशोक ने अल्मोड़ा पुलिस लाइन में पुलिस कर्मियों के पत्नियों को आत्मनिर्भर के संबंध में गोष्ठी की। इस दौरान अलकनन्दा अशोक की अध्यक्षता में अजय रौतेला पुलिस महानिरीक्षक कुमायूॅ परिक्षेत्र की धर्मपत्नी रिमझिम, पंकज भट्ट एसएसपी अल्मोड़ा की धर्मपत्नी हेमा बिष्ट की उपस्थित में कार्यक्रम का शुभारम्भ अल्मोडा एक सांस्कृतिक नगरी की झलकियों से कुमाउनी शिव वन्दना से प्रारम्भ की गयी। तदोपरान्त स्थानीय भाषा में बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ में बेटी के बाल्यकाल से लेकर बेटियों के आसमान छूॅने तक की साहसिक कार्यो को संगीत के साथ प्रस्तुत करते हुए महिला होने पर गर्व महसूस कराते हुए जागरूक किया गया।
अलकनन्दा अशोक महोदया द्वारा गठित UPWWA के मुख्य उद्देश्य पुलिस परिवार की महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए उन्हें व्यवसायिक प्रशिक्षण प्रदान करने के साथ-साथ समय-समय पर मेडिकल कैम्प, प्रत्येक महिला की रचनात्मक कुशलता चिन्हित कर अवसरों में स्थान दिलवाना है।
कार्यक्रम में जनपद के पुलिस कार्मिकों की धर्म पत्नियों का सम्मेलन लिया गया तथा कार्यक्रम में मौजूद महिलाओं से वार्तालाप कर उनकी पारिवारिक समस्याओं की जानकारी ली गयी, तथा निस्तारण हेतु सम्बन्धित को बताया गया। कहा कि महिलाएं की परिवार की नींव हैं, पूरे समर्पण भाव से अपने परिवार की देखभाल करती हैं परन्तु स्वयं के लिए समय नहीं निकाल पाती है, इसके अतिरिक्त प्रत्येक महिला के अन्दर कोई न कोई रचनात्मकता छुपी होती है, जिसे चाह कर भी वह निखार नहीं पाती। हम चाहते हैं कि यदि किसी भी महिला के अन्दर कोई भी रचनात्मकता (सिलाई, पेन्टिंग, ऐपण, ब्यूयूटेशन, क्राफ्टिंग आदि) हो तो वो आगे आए उसे हम आगे बढ़ाकर औरों को भी आत्मनिर्भर बना सकते हैं। सभी महिलाएं अपने स्वास्थ के लिए जरूर टाइम निकालें जैसे योगा आदि। जब हम पूर्णरूप से स्वस्थ होगें तभी अपने परिवार का भी ख्याल कर पायेगें।
सरिता पाठक द्वारा बताया गया कि पुलिस परिवार के बच्चों के लिए एक लाइब्रेरी की आवश्यकता है, जिसका संज्ञान लेते हुए ने बच्चों के लिए लाइब्रेरी खोलने का आश्वासन दिया। इसके अतिरिक्त यह भी बताया कि वर्तमान में स्कूल वेन नहीं चलने के कारण बच्चों को स्कूल पहुॅचाने हेतु वाहन की अतिआवश्यकता है, जिस पर द्वारा पुलिस लाईन से वाहन की व्यवस्था का आश्वासन दिया गया। इसके अतिरिक्त द्वारा महिलाओं से वार्ता करने के उपरान्त निर्णय लिए कि तीन माह में एक बार पुलिस लाईन में कैम्प लगवाकर प्रत्येक महिला का चैकप करवाया जाय। यदि आत्मनिर्भर बनने के लिए कोई भी कार्य करना चाहते हैं तो प्रशिक्षण दिलवाया जाय। पुलिस परिवार के बच्चों के लिए ऑन-लाईन क्लास संचालित करवाने हेतु पुलिस लाईन में एक कक्ष तैयार कर कम्प्यूटर एवं इन्टरनैट कनैक्टिविटी लगवाई जाय। पुलिस परिवार में जिन पुलिस कर्मियों की मृत्यु हो चुकी है उनकी धर्मपत्नियों से मिलकर उनकी परेशानियों का समाधान करने का पूरा प्रयास किया जाय। त्यौहारों को मिलकर सैलीब्रेट एवं प्रतियोगिताओं का आयोजन करते हुए उत्कृष्ट प्रदर्शन पर पुरूस्कार वितरण किया जाय।
कार्यक्रम में अल्मोड़़ा पुलिस परिवार की महिला कल्याण की अध्यक्षा हेमा बिष्ट द्वारा को अग्रिम कार्ययोजना में शामिल योगा, पेन्टिग के बारे में बताया गया। जिसमें योग प्रशिक्षक प्रियंका जोशी ने योग तथा ऐपण व पेन्टिग प्रशिक्षक मीना आगरी ने पेन्टिंग के बारे में चर्चा की गयी तथा विभिन्न प्रकार के ऐपण चित्रकारी का प्रदर्शनों ने सभी का मन मोह लिया।
इस अवसर पर कार्यक्रम का संचालन कृष्णा लटवाल एवं ज्योती जाटव द्वारा किया गया। कार्यक्रम की रूपरेखा पीआरओ हेमा ऐठानी द्वारा तैयार की गयी। आयोजित कार्यक्रम में उपस्थित महिलाओं द्वारा अध्यक्षा के दिये गये मार्गदर्शन की काफी सराहना करते हुए प्रशंसा की गयी। कार्यक्रम में महिला थानाध्यक्ष श्वेता नेगी, महिला कल्याण केन्द्र में नियुक्त का0 गार्गी रानी, का0 रेखा अटवाल, काजल, ममता पाण्डे, उषा लेखक, प्रेमा देवी, रेखा मेहता आदि तथा का0 मीनाक्षी, का0 चम्पा विश्वकर्मा, का0 अनीता बिष्ट के अतिरिक्त अन्य शामिल रहे।

अल्मोड़ा मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉक्टर आर जी नौटियाल का संदेश

Copyright © शक्ति न्यूज़ | Newsphere by AF themes.