November 14, 2021

शक्ति न्यूज अल्मोड़ा |

1918 से प्रकाशित शक्ति अखबार का डिजीटल प्लेटफार्म

अस्पताल में आग लगने से 11 कोरोना मरीजों की मौत

1 min read
advert aps
advert
advert rajesh boot house
advert prakash2
previous arrow
next arrow

खबर महाराष्ट्र— यहां अस्पताल में आग लगने से 11 कोरोना मरीजों की मौत हो गयी,आग लगने के कारणों का पता नही चल पाया है, आग लगने का कारण शार्ट सर्किट माना जा रहा है।
जानकारी के अनुसार जिले में सिविल अस्पताल के कोविड आइसीयू वार्ड पर शनिवार सुबह करीब 10.30 बजे जब आग लगी,उस समय वार्ड में कुल 17 मरीज भर्ती थे। बताया जा रहा है कि शार्ट सर्किट से लगी आग के बाद सिर्फ सात मरीजों को वार्ड से बाहर लाया जा सका। बाकी दस मरीजों की आईसीयू में ही मौत हो चुकी थी। एक मरीज ने बाद में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।
जिलाधिकारी राजेंद्र भोसले के अनुसार आग लगने के बाद आइसीयू से सुरक्षित बाहर निकाले गए कोविड मरीजों को एक अन्य अस्पताल में इलाज के लिए भेजा गया है। उनके अनुसार अस्पताल का फायर आडिट किया गया था। आग लगने की प्रारंभिक वजह शार्टसर्किट मानी जा रही है। राज्य के वरिष्ठ मंत्री व राकांपा प्रवक्ता नवाब मलिक ने भी घटना पर खेद जताते हुए कहा है कि अस्पताल के आइसीयू का निर्माण हाल ही में कोरोना मरीजों के इलाज के लिए किया गया था। नए बने आइसीयू में आगजनी की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अग्निकांड पर दुख जताते हुए मारे गए लोगों को परिजनों को सांत्वना दी है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मारे गए लोगों के परिजनों को पांच-पांच लाख की सहायता की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि घटना की जांच में जो भी दोषी पाए जाएंगे, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने अहमदनगर के प्रभारी मंत्री हसन मुश्रिफ व राज्य के मुख्य सचिन सीताराम कुंटे को स्थिति पर नजर बनाए रखने के निर्देश दिए हैं। महाराष्ट्र के कोविड अस्पतालों में आग लगने की यह पहली घटना नहीं है। पिछले वर्ष से अब तक करीब आधा दर्जन कोविड अस्पताल आग की चपेट में आ चुके हैं।

Copyright © शक्ति न्यूज़ | Newsphere by AF themes.