November 16, 2021

शक्ति न्यूज अल्मोड़ा |

1918 से प्रकाशित शक्ति अखबार का डिजीटल प्लेटफार्म

प्रशासन के अलर्ट के बाद छुपके गये मंदिर दर्शन को 200 श्रद्वालु की जांन पडी आफत में पुलिस ने किया रेस्क्यु

1 min read
advert aps
advert
advert rajesh boot house
advert prakash2
previous arrow
next arrow

खबर चंपावत टनकपुर। प्रदेश में भारी बारिश और भु स्खलन की चेतावनी दिये जाने के बाद भी यहां कुछ लोग मानमानी कर अपनी जान के दुशमन बन जाते है। ऐसा ही एक मामला टनकपुर क्षेत्र से सामने आया,जहां पूर्णागिरी मंदिर दर्शन को आये 200 श्रद्वालु बाटनागाड़ टनकपुर में फंस गये। पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए स्थानीय लोगों की मदद से सभी को सुरक्षित स्थानों में पहुंचा दिया हैं।
प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रदेश में अलर्ट जारी किये जाने के बावजूद चोरी छिपे पैदल जंगल के रस्ते से आज सोमवार की सुबह टनकपुर क्षेत्रान्तर्गत विभिन्न क्षेत्रो से पूर्णागिरी दर्शन को आये हुए लगभग 150-200 श्रद्धालु बाटनागाड़ में पहुंच गये और पानी के तेज बहाव और मार्ग पर मलबा और पत्थर गिरने फंस गये। जिसके बाद स्थानीय पुलिस को कॉल किया,इसके बाद ठुलीगाड़ चौकी प्रभारी देवेन्द्र सिंह मनराल के नेतृत्व में टीम मौके पर पहुची और आसपास के लोगों की मदद से रेस्क्यू अभियान चलाकर सभी श्रद्धालूओं को नाले से सुरक्षित पार कराकर वापस भेजा गया। जिसके बाद सभी श्रद्धालुओं ने चम्पावत पुलिस और स्थानीय लोगों जनपद पुलिस का आभार प्रकट किया। पुलिस और प्रशाासन ने लोगों को अनावश्यक आवाजाही नही करने व अपने घरो में ही बने रहने की अपील की जा रही है।

Copyright © शक्ति न्यूज़ | Newsphere by AF themes.