January 23, 2022

शक्ति न्यूज अल्मोड़ा |

1918 से प्रकाशित शक्ति अखबार का डिजीटल प्लेटफार्म

कांग्रेस हाईकमान के बुलावे के बाद विजयी मुद्रा में लौटे हरीस रावत बोले चुनाव अभिायन का करूंगा नेतृत्व

1 min read

अल्मोड़ा— दिल्ली दरबार मे हाजिरी के बाद उत्तराखंड कांग्रेस में मचा घमासान सुलझने का आसार नजर आ रहे है। कांग्रेस हाईकमान के बुलावे के बाद विजयी मुद्रा में लौटे हरीस रावत बोले चुनाव अभिायन का नेतृत्व करूंगा,लेकिन मुख्यमंत्री कौन होगा ये चुनाव के बाद ही तय होगा।
उत्तराखंड प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल के निर्देश पर कांग्रेस की बैठकें फिलहाल स्थगित कर दिये गये है, नया कार्यक्रम अब नई परिस्तिथि के अनुसार तय होंगे । हरीश रावत के साथ पार्टी प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल, पूर्व मंत्री यशपाल आर्या, नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह, सांसद प्रदीप टम्टा, पूर्व अध्यक्ष किशोर उपाध्याय सहित पार्टी के तमाम वरिष्ठ नेताओं को दिल्ली बुलाया गया था। प्रियंका गांधी की पहल पर वार्ता हुई ।
जैसा कि पूर्व प्रकाशित खबरों से स्पष्ठ है कि हरीश रावत ने ट्वीट कर कहा था कि, ‘है न अजीब सी बात, चुनाव रूपी समुद्र को तैरना है, सहयोग के लिए संगठन का ढांचा अधिकांश स्थानों पर सहयोग का हाथ आगे बढ़ाने के बजाय या तो मुंह फेर करके खड़ा हो जा रहा है या नकारात्मक भूमिका निभा रहा है। जिस समुद्र में तैरना है, सत्ता ने वहां कई मगरमच्छ छोड़ रखे हैं। जिनके आदेश पर तैरना है, उनके नुमाइंदे मेरे हाथ-पांव बांध रहे हैं। मन में बहुत बार विचार आ रहा है कि हरीश रावत अब बहुत हो गया, बहुत तैर लिए, अब विश्राम का समय है!’ इसी के बाद उत्तराखंड की सियासत में ऊहापोह की स्थिति पैदा हो गई थी। उन्होंने कहा था बड़ी उहापोह की स्थिति में हूंं, नया वर्ष शायद रास्ता दिखा दे ।

हरीश रावत ने एक अन्य ट्वीट में लिखा था, ‘फिर चुपके से मन के एक कोने से आवाज उठ रही है “न दैन्यं न पलायनम्” बड़ी उहापोह की स्थिति में हूंं, नया वर्ष शायद रास्ता दिखा दे। मुझे विश्वास है कि भगवना केदारनाथ जी इस स्थिति में मेरा मार्गदर्शन करेंगे।’ ट्वीट के बाद हरीश रावत ने भा ज पा व आप पर चुटकी लेते हुवे कहा ,मेरा ट्वीट पढ़कर भाजपा और आप को मिर्ची लग गई ट्वीट पर गरमाई सियासत के बीच भाजपा ने हरीश के ट्वीट के बहाने कांग्रेस की गुटबाजी को लेकर निशाना साधा। साथ ही इसे हरीश रावत के कांग्रेस मे महत्वहीन होने के तौर पर पेश किया। हरीकांग्रेस छोड़कर कहीं नहीं जा रहा हूं: हरीश रावत ने मीड़िया से कहा था क वह कांग्रेस पार्टी को भी छोड़कर कहीं नहीं जा रहा है। वह मरते दम तक कांग्रेस में ही रहेगा और पार्टी की भलाई के लिए काम करता रहेगा।’ पार्टी में उपजे विवाद और अपने ट्वीट पर उन्होंने कहा कि थोड़ा इंतजार कीजिए, सब कुछ स्पष्ट हो जाएगा, किसने क्या किया, किसने क्या कहा और आगे कौन क्या करेगा।

Copyright © शक्ति न्यूज़ | Newsphere by AF themes.