October 10, 2021

शक्ति न्यूज अल्मोड़ा |

1918 से प्रकाशित शक्ति अखबार का डिजीटल प्लेटफार्म

आल्पस फार्मास्यूटिकल पातालदेवी की इनसॉल्वेंसी रिजॉल्यूशन प्रक्रिया प्रारम्भ

1 min read
546778f3-c32c-455b-a331-27f23100882a
27673308-6ab7-4439-9875-5ca44b4946e1
previous arrow
next arrow

वर्ष 1980 में स्थापित कुमाऊं के हिमालय क्षेत्र में एक मात्र एैलोपैथिक दवा कंपनी आल्पस फार्मास्यूटिकल जो कि औद्योगिक आस्थान पाताल देवी में थी और यहां पर जीवन रक्षक दवाओं का निर्माण करती थी। स्थापना से लेकर वर्ष 2005 तक यह कंपनी कभी भी घाटे में नहीं रही। इसके ऊपर बैंकों की कर्जदारी अवश्य रही। तत्कालीन फैक्ट्री के संचालक ने जहां इसे बंद होने से बचाया वहीं समय पर फैक्ट्री में कार्यरत कर्मचारियों को पारिश्रमिक के साथ ही भविष्य निधि का भुगतान भी किया। वर्ष 2005 में इस फैक्ट्री के तत्कालीन स्वामी/ संचालक ने इसे अहमदाबाद निवासी जयेश के0 शुक्ला को विक्रय कर दिया और उसने इसका पंजीकृत कार्यालय यहां से हटाकर अहमदाबाद कर दिया। वर्ष 2015 तक इस दवा फैक्ट्री का संचालन पूर्व संचालक ही करता रहा और उसके द्वारा समय पर वेतन व भविष्य निधि का भुगतान भी होता रहा। वर्ष 2015 में इस फैक्ट्री का संचालन स्वयं इसके मालिक जयेश के0 शुक्ला करने लगे और तभी से इस आल्पस फार्मास्यूटिकल प्रा0 लि​0 की हालत खराब होती गयीं फैक्ट्री स्वामी यहां कार्यरत कर्मचारियों का वेतन व भविष्यनिधि का भुगतान भी नहीं कर पाया और हालत यहां तक पहुंच गई कि फैक्ट्री बंद हो गयी। फैक्ट्री के ऊपर जहां बैंकों का करोड़ों रुपया बा​की है वहीं कर्मचारियों की भविष्य निधि, वेतन, बिजली, पानी व अन्य टैक्स भी बाकी है। अब कहीं जाकर 19 नवम्बर 2019 को इनसॉल्वेंसी एंड बैंकरप्सी बोर्ड आफ इंडिया ने विनियमन 6 के तहत उक्त फैक्ट्री के लेनदारों का ध्यान आकर्षित करते हुए नोटिस जारी किया है कि कानून न्यायाधिकरण ने कंपनी आल्पस प्राइवेट लिमिटेड की इनसॉल्वेंसी रिजॉल्यूशन प्रक्रिया प्रारम्भ कर दी तथा इसके लेनदार 29 नवम्बर तक अपने दावे प्रस्तुत कर सकते है इस हेतु भूपेन्द्र सिंह, नारायण सिंह राजपूत अ​हमदाबाद को अंतरिम जिलॉल्यूशन पेशेवर नियुक्त  किया है।

Copyright © शक्ति न्यूज़ | Newsphere by AF themes.