November 18, 2021

शक्ति न्यूज अल्मोड़ा |

1918 से प्रकाशित शक्ति अखबार का डिजीटल प्लेटफार्म

रीडिंग कैंप में बच्चों को उपहार में दी गई पुस्तकें

1 min read
advert aps
advert
advert rajesh boot house
advert prakash2
previous arrow
next arrow

सोमेश्वर (अल्मोड़ा)। बालप्रहरी तथा बालसाहित्य संस्थान अल्मोड़ा द्वारा रूम टू रीड के सौजन्य से ताकुला विकास खंड के सोमेश्वर, गुरड़ा, कांटली, बृशभेश्वर(बूंगा), तथा जाल धौलाड़ में रीडिंग कैंप लगाया गया। रीडिंग कैंप के तहत लगभग 200 पुस्तकों की प्रदर्शनी लगाई गई। बच्चों से इन पुस्तकों को पढ़ने तथा देखने के लिए कहा गया। जो बच्चे पुस्तकें पढ़ सकते थे उन्होंने स्वैच्छिक रूप से कहानी पर अपनी टिप्पणी रखी। जो बच्चे पढ़ नहीं सकते थे उन्हें पुस्तक के चित्रों पर टिप्पणी करने को कहा गया। पुस्तकों पर स्वैच्छिक रूप से टिप्पणी करने वाले सभी बच्चों को पुस्तकें उपहार में दी गई। पुस्तक प्रदर्शनी में उपलब्ध पुस्तकों को पढ़ने वाले अभिभावकों को भी पुस्तकें दी गई।
दूसरे चरण में कोरोना काल में बच्चों की पढ़ाई, घर पर पढ़ाई का माहौल बनाने में अभिभावकों की भूमिका,क्या बच्चे घर पर कहानी,कविता आदि माध्यमों से भी सीखते हैं जैसे विषयों पर बच्चों तथा अभिभावकों ने अपने विचार प्रस्तुत किए। बालप्रहरी के संपादक तथा बालसाहित्य संस्थान अल्मोड़ा के सचिव उदय किरौला ने गांवों में बच्चों को ‘एक आदमी की कहानी’, तथा ‘पीं पीं पीं पीं पीं की कहानी’ सुनाई गई। उन्होंने बच्चों को‘तोता कहता है’, ‘जैसा में करूं’, ‘नेताजी की खोज’,‘कितना बड़ा पहाड’, ‘कितने भाई कितने’ आदि खेल कराएं। भारत ज्ञान विज्ञान समिति के प्रांतीय कोशाध्यक्ष प्रमोद तिवारी, राजकीय कन्या हाईस्कूल चनौदा की शिक्षिका किरन उपाध्याय, नंदिनी गैरौला आदि ने भी बच्चों को खेल कराए। कई अभिभावकों तथा बच्चों ने भी कहानियां सुनाई। जाल धौलाड़ में अभिभावकों के साथ खेले गए ‘कानाफूसी’ खेल में वैज्ञानिक जागरूकता से संबंधित बिंदुओं पर भी चर्चा हुई। यहां प्रमोद तिवारी ने बच्चों तथा अभिभावकों को विज्ञान के कई प्रयोग करके वैज्ञानिक जागरूकता से जोड़ने का प्रयास किया।
स्कूल के अवकाश दिवसों में आयोजित बच्चों की कार्यशाला में नायला अमान, किरन उपाध्याय, उमा तिवारी, पूरनसिंह बोरा,हरेंद्र रावत, पंकज पांडे, मोतीप्रसाद साहू,के.डी.जोशी, नंदिनी गैरौला,ममता बोरा, नेहा बोरा, निशा भाकुनी, सुमन भाकुनी,सीमा देवी तथा गंगा जोशी, प्रमोद तिवारी, हेमेंद्र जोशी, राजेंद्र जोशी आदि शिक्षकों तथा बहुत से अभिभावकों ने सक्रिय सहयोग किया। अलग-अलग कार्यक्रमों में लगभग 250 बच्चों तथा 72 अभिभावकों ने सहभागिता की। कार्यक्रम के अंतिम दिन भारत ज्ञान विज्ञान समिति के प्रांतीय कोषाध्यक्ष प्रमोद तिवारी ने कहा कि बच्चे कहानी तथा खेलों के माध्यम से भी काफी कुछ सीखते हैं।

Copyright © शक्ति न्यूज़ | Newsphere by AF themes.