January 12, 2022

शक्ति न्यूज अल्मोड़ा |

1918 से प्रकाशित शक्ति अखबार का डिजीटल प्लेटफार्म

ऐतिहासिक संघर्ष का एक साल पूरा- उपपा

1 min read

अल्मोड़ा। उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी ने संयुक्त किसान मोर्चा के बेमिसाल जुझारू संघर्ष का एक साल पूरा होने पर कहा कि इस ऐतिहासिक संघर्ष ने देश व दुनिया को नई दिशा दी है। उपपा के केंद्रीय कार्यालय में आज हुई बैठक में पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष पी. सी. तिवारी ने कहा कि सत्ता के क्रूर दमन, घृणित साजिशों के बीच जिस धैर्य, आत्मविश्वास व दृढ़ता से किसानों ने सत्ता के अहंकार को चूर किया वह युगों युगों तक जनमानस को प्रेरणा देगा। उपपा ने कहा कि उत्तराखंड के पर्वतीय क्षेत्रों में भी कृषि को सुनियोजित रूप से नष्ट किया जा रहा है जो यहां के अस्तित्व के लिए खतरा है। उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी के केंद्रीय कार्यालय में संयुक्त किसान मोर्चा के नेतृत्व में पिछले एक साल से चल रहे इस ऐतिहासिक संघर्ष पर हुई बातचीत में इस आंदोलन को समर्थन देते हुए कहा कि सरकार को तत्काल किसान नेताओं को बुलाकर न्यूनतम समर्थन मूल्य की गारंटी का कानून बनाने, इस संघर्ष के दौरान शहीद हुए 700 से अधिक किसानों को शहीद का दर्ज़ा देते हुए उनके परिवारों को मुआवजा देने एवं लखीमपुर खीरी में किसानों को कुचलने की साज़िश के लिए केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा को केंद्रीय मंत्री मंडल से बर्खास्त कर गिरफ्तार करने की मांग की। बैठक में वक्ताओं ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार कांग्रेस की उदारीकरण, निजीकरण की नीतियों पर आगे बढ़ते हुए उत्तराखंड की खेती, किसानी को चौपट कर रही है और उत्तराखंड के प्राकृतिक संसाधनों, ज़मीनों को निर्ममता से माफियाओं, पूंजीपतियों को लुटा रही है जिसके ख़िलाफ़ उत्तराखंड को एकजुट होने की ज़रूरत है। बैठक में उपपा की केंद्रीय सचिव आनंदी वर्मा, वरिष्ठ अधिवक्ता एड. गोविन्द लाल वर्मा, एड. जीवन चन्द्र, एड. नारायण राम, गोपाल राम, अमीनुर्रहमान, हीरा देवी, धीरेन्द्र मोहन पंत, किरन आर्या, सरिता मेहरा, उत्तराखंड छात्र संगठन की भारती पांडे व दीपांशु पांडे आदि लोग शामिल रहे।

Copyright © शक्ति न्यूज़ | Newsphere by AF themes.