October 10, 2021

शक्ति न्यूज अल्मोड़ा |

1918 से प्रकाशित शक्ति अखबार का डिजीटल प्लेटफार्म

बंगले में हुए डबल मडर से फैली सनसनी पुलिस जुटी जांच में

1 min read
546778f3-c32c-455b-a331-27f23100882a
27673308-6ab7-4439-9875-5ca44b4946e1
previous arrow
next arrow

खबर देहरादून । यहां एक बंगले में एक सा​थ दो लागों की हत्या का मामला सामने आया है जिसके वाद इलाके में सनसनी फैली हैं ,दोनों शव बंगले में पॉलिथीन से हुए बरामद हुए हैं, हत्या के कारणों की जांच कर रही हैं।
प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रेमनगर थाना क्षेत्र में धौलास में सुभाष शर्मा का बंगला हैं,​जहां पर उनकी 55 वर्षीय पत्नी उन्नति शर्मा और 45 वर्षीय नौकर राजकुमार थापा करीब आठ-दस साल से रहते थे। बुधवार सुबह सुभाष शर्मा ने पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी थी कि उनकी पत्नी व नौकर घर से गायब हैं। इस पर प्रेमनगर थाने से चीता पुलिस मौके पर पहुंची और विवरण लेकर लौट आई। कुछ देर बाद अन्य गांव की अन्य महिलाएं वहां आईं और बंगले के अहाते में चारों ओर तलाश किया। इस बीच एक महिला की नजर वहां खिड़की के पास पड़ी पॉलिथीन पर पड़ी उन्होंने पॉलिथीन को उतारा तो देखा कि वहां पर उन्नति शर्मा मृत पड़ी थीं। पास में ही राजकुमार थापा का भी शव पड़ा हुआ था। महिलाओं ने इसकी जानकारी सुभाष शर्मा को दी। जिसके वाद शर्मा ने पुलिस को इसकी जानकारी दी ।
सूचना के बाद मौके पर एसएसपी जन्मेजय खंडूरी, एसपी सिटी सरिता डोभाल समेत अन्य अधिकारी भी पहुंच गए। फोरेंसिक टीम ने भी वहां से खून व अन्य नमूने इकट्ठे किए। अधिकारियों का कहना है कि मृत्यु के कारणों का पता पोस्टमार्टम के बाद ही चल सकता है। फिलहाल सिर पर घाव किसी धारदार भारी हथियार के लग रहे हैं। सुभाष शर्मा की एक बेटी और एक बेटा है। दोनों लंदन में ही रहते हैं। बंगले में नौकर के लिए वहां पर एक बड़ा सर्वेंट क्वार्टर भी बना है। इसमें दो कमरे, रसोई और अन्य सुविधाएं हैं,जब सर्वेंट क्वार्टर दरवाजा खोलकर देखा गया तो लगा कमरे महीनों से खोले ही नहीं गए। कमरों में कूड़ा-करकट जमा पड़ा था।
सुभाष शर्मा लंदन में रहते थे। वहां वह फैशन डिजाइनिंग के क्षेत्र में काम करने वाली कंपनी के पार्टनर थे। वहां करीब 30 साल काम करने के बाद वह लगभग 14 साल पहले देहरादून आए थे। यहां वह पहले वसंत विहार में किराए के मकान में रहते थे।लगभग आठ साल पहले उन्होंने यह जमीन ली और मकान बनाकर रहने लगे। उनका नौकर राजकुमार थापा भी 15 साल से उनके साथ ही रहता था। यहां भी वह तीनों ही रहते थे।जिस जमीन में यह बंगला बना हुआ है वह धौलास की पहाड़ी पर स्थित है। ग्रामीणों के मुताबिक करीब 12 बीघा की यह संपत्ति पहले पूर्व डीजीपी कंचन चौधरी भट्टाचार्य की थी। उन्होंने ही सुभाष शर्मा को यह जमीन बेची थी। फिलहाल फोरेंसिक टीम ने भी वहां से खून व अन्य नमूने इकट्ठे किए। अधिकारियों का कहना है कि मृत्यु के कारणों का पता पोस्टमार्टम के बाद ही चल सकता है।

Copyright © शक्ति न्यूज़ | Newsphere by AF themes.