January 26, 2022

शक्ति न्यूज अल्मोड़ा |

1918 से प्रकाशित शक्ति अखबार का डिजीटल प्लेटफार्म

अल्मोड़ा में दो दिवसीय आजीविका महोत्सव का समापन

1 min read

अल्मोड़ा – हवालबाग में आयोजित दो दिवसीय आजीविका महोत्सव के समापन के अवसर पर आज विभिन्न विभागों की कार्यशालायें आयोजित हुई। कार्यशालाओं में पर्यटन विभाग द्वारा होम-स्टे पर आयोजित कार्यशाला व उद्योग विभाग द्वारा हैण्डीक्राफ्ट व एैंपण, सेवायोजन विभाग द्वारा कैरियर काउसलिंग व आजीविका, एनआरएलएम विभागों द्वारा वैल्यू चैन पर कार्यशालायें की गयी जिसमें विषय विशेषज्ञों द्वारा नवीनतम तकनीक व विपणन के नये तरीको को बारे में अवगत कराया। इनमें मुख्यरूप से होम-स्टे पर जोस्टैल के चीफ टैक्नीकल आफिसर व ओडीसी-स्टे द्वारा, हैण्डीक्राफ्ट में निफ्ट के प्रोफेसर शक्ति द्वारा कार्यशालाओं में उपस्थित लोगों को जानकारियॉ उपलब्ध करायी गयी। महोत्सव में जनपद के दूरस्थ क्षेत्रों की आजीविका समूहों द्वारा बनाये जा रहे उत्पादों का प्रदर्शन स्टॉलों के माध्यम से किया गया।         
इस दौरान जिलाधिकारी वन्दना सिंह ने कार्यशालाओं में उपस्थित लोगों से संवाद कर कार्यशाला में उनके अनुभवों को साझा किया। उन्होंने कहा कि इन कार्यशालाओं के अच्छे परिणाम निकलेंगे इसका उन्हें पूर्ण विश्वास है। उन्होंने सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिये कि कार्यशालाअें में प्रतिभाग करने वाले प्रतिभागियों से फीडबैक फार्म अवश्य भरवायें जिससे स्वरोजगार योजनाओं मंे आ रही दिक्कतों को दूर किया जा सके।  इस दौरान उन्होंने विषय विशेषज्ञों से बातचीत कर उनके अनुभव व सुझाव प्राप्त किये। जिलाधिकारी ने कहा कि जो भी सुझाव आयेंगे उन्हें शासन स्तर पर प्रेषित किया जायेगा।
समापन के अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि विधानसभा उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह चौहान ने प्रतिभाग करते हुए आजीविका महोत्सव की परिकल्पना को एक सराहनीय पहल बतायी। उन्होंने कहा कि इस महोत्सव से दूरस्थ क्षेत्रों में आजीविका से जुड़ी महिलाओं, काश्तकारों व अन्य लोगों को फायदा मिलेगा। इसके अलावा उनके द्वारा बनाये गये उत्पादों को सीधा बाजार मिल पायेगा जिससे वे आत्मनिर्भर हो पायेंगी। महिलायें आर्थिक रूप से स्वालम्बी व आत्मनिर्भर हो यह प्रदेश सरकार की भी मंशा है। उन्होंने उपस्थित महिला समूहों को सम्बोधित करते हुए स्वरोजगार योजनाओं का लाभ लेने की अपील की। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा महिलाओं को स्वालम्बी बनाने के लिए समूहों के माध्यम से 05 लाख रू0 तक का ऋण उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने सभी उपस्थित लोगों से इस महोत्सव का लाभ उठाने की अपील की। इस दौरान विधानसभा उपाध्यक्ष ने महोत्सव स्थल पर लगे विभिन्न विभागीय व स्थानीय उद्यमियों द्वारा लगाये गये स्टॉलों का निरीक्षण कर उनके उत्पादों की जानकारी प्राप्त कर सराहना की।
            महोत्सव के दूसरे कई महिला समूहों को सीसीएल के चैक विधानसभा उपाध्यक्ष ने वितरित किये। इसके साथ ही वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली योजना के अन्तर्गत चैक भी लभार्थियों को दिये गये। इस दौरान माउन्टेन बाईकिंग में प्रतिभाग करने वाले बच्चों को भी विधानसभा उपाध्यक्ष ने प्रोत्साहित किया।  इस अवसर पर देवभूमि मॉ शारदे सांस्कृतिक टीम द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये। इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी नवनीत पाण्डे ने महोत्सव को सफल बनाने के लिए सभी जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों व स्थानीय जनता का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि आजीविका महोत्सव की परिकल्पना स्थानीय लोगों व उद्यमियों को स्वरोजगार योजनाओं के साथ जोड़ना व उनके उत्पादों का प्रदर्शन करना था जो सफल रहा। कार्यक्रम में परियोजना निदेशक एस0एस0 बिष्ट, जिला विकास अधिकारी के0के0 पंत, क्षेत्र पंचायत सदस्य दीपा जोशी, पर्यटन विकास अधिकारी राहुल चौबे के अलावा विभिन्न विभागीय अधिकारी, महिला समूह व स्थानीय लोग उपस्थित रहे।

Copyright © शक्ति न्यूज़ | Newsphere by AF themes.